राम भक्ति

Search

राम मंदिर दर्शन कै से होंगे – Ayodhya ram mandir darshan timings 2023

Table of Contents

Ayodhya ram mandir

अयोध्या राम मंदिर

अयोध्या दर्शन
वो सबकुछ जो आपके
लिए जानना जरूरी
22 जनवरी 2024 को अयोध्या में रामलला की
प्राण प्रतिष्ठा हो चुकी है। यदि आप भी अयोध्या
जाने का प्लान कर रहे हैं तो दैनिक भास्कर की
इस अयोध्या ई-गाइड में आपको मिलेगी संपूर्ण
जानकारी। इसमें वो सभी जानकारियां संकलित
की गई हैं, जो अयोध्या पहुंचने से लेकर शहर में
घूमने तक में मददगार साबित होंगी।

राम मंदिर अयोध्या दर्शन



राम मंदिर दर्शन
राम मंदिर कब खुलता है?
सुबह- 6.30 से दोपहर 12.00 बजे तक
दोपहर- 2.30 से रात 10.00 बजे तक (समय में परिवर्तन संभव)
मंदिर में दर्शन कै से होंगे?
राम मंदिर परिसर के मुख्य प्रवेश द्वार से मंदिर की दरी करी
200
मीटर है। यहां से मंदिर तक पहु
ंचने के लिए बुजुर्गों और विकलांगों के
लिए व्हीलचेअर की सुविधा भी रहेगी।
मंदिर में आपको सिंह द्वार होते हुए 32 सीढ़ी चढ़कर राम मंदिर
में प्रवेश मिलेगा। इसके बाद आप पांच मंडप पार करके गर्भ गृह में
रामलला के दर्शन 30 फीट दरी से कर प

Ayodhya ram mandir opening date



रामलला की आरती का समय क्या है?
मंगला आरती- सुबह 4.30 बजे
शृंगार आरती- सुबह 6.30 से 7.00 बजे
भोग आरती- 11.30 बजे
मध्यान्ह आरती- दोपहर 2.30 बजे
संध्या आरती- शाम 6.30 बजे
शयन आरती- रात 8.30 से 9.00 बजे


रामलला के वीआईपी दर्शन और मंगला व शृंगार आरती के लिए
श्रीराम जन्मभूमि तीर क््थ षेत्र ट्रस्ट ने अभी कोई व्यवस्था घोषित नहीं की
है। शृंगार, भोग और संध्या आरती में भक्त शामिल हो सकें गे।
भगवान दिन में ढाई घंटे (दोपहर 12 से ढाई बजे तक) विश्राम करेंगे।
इस दौरान गर्भगृह के पट बंद रहेंगे।
आरती में कै से शामिल हो सकते हैं?


पास की ऑफलाइन व्यवस्था
आरती में शामिल होने के नियम ट्रस्ट तय कर रहा है। अभी ट्रस्ट द्वारा
पास बनाया जाता है। ऑफलाइन पास श्रीराम जन्मभूमि कैं प ऑफिस से
बनता है। इसके लिए आईडी प्रूफ देना अनिवार्य होता है।
ऑनलाइन व्यवस्था


https://online.srjbtkshetra.org/#/aarti पर जाकर ऑनलाइन
पास के लिए रजिस्ट्रेशन किया जा सकता है, हालांकि अभी यह व्यवस्था
एक्टिव नहीं हुई है। 27 जनवरी से व्यवस्था सामान्य होने की संभावना है।
इसके बाद ही आप ऑनलाइन बुकिं ग कर पाएं गे।


वीआईपी दर्शन की क्या व्यवस्था है?
मंदिर में वीआईपी दर्शन की कोई आधिकारिक व्यवस्था, टिकट या
शुल्क नहीं है। अभी व्यवस्थाएं तय की जा रही हैं।



मंदिर में प्रसाद क्या मिलेगा?
राम मंदिर में भक्तों को ‘इलायची दाने’ का प्रसाद दिया जाएगा। यह चीनी
और इलायची को मिलाकर बनाया जाता है। मंदिर परिसर में ही भक्तों
को नि:शुल्क प्रसाद की व्यवस्था है।

प्रसाद कहां से मिलेगा?
सभी भक्तों को प्रसाद बांटने के लिए मशीन लगाई गई है। ये मशीनें
परिसर में दर्शनार्थियों के वापसी के रास्ते पर स्थापित हैं। अभी शुल्क के
साथ प्रसाद की कोई व्यवस्था मंदिर में नहीं है।
चढ़ाने के लिए प्रसाद ले जा सकते हैं?


भक्त भी विशेष अनुमति से शाकाहारी और शुद्ध मिठाई और मेवे आदि
का भोग लगवा सकते हैं। सुरक्षा कारणों से रामलला के मंदिर में भगवान
को अर्पित करने के लिए नारियल, फू ल माला, शृंगार या कोई और चीज
भक्त नहीं ले जा सकें गे।
मंदिर में अंदर क्या ले जा सकें गे?


मंदिर दर्शन के वक्त आप अंदर के वल पैसा और चश्मा जैसी जरूरी चीजें ही
ले जा सकें गे। अन्य वस्तुओ के ल ं िए दर्शन मार्ग पर लाॅकर की सुविधा है।

Scroll to Top