राम भक्ति

Search

Gangaur Ke Geet – गणगौर के गीत लिखे हुए

Gangaur Ke Geet  – गणगौर के गीत लिखे हुए

गणगौर के अवसर पर किसकी पूजा की जाती है

महिलाएँ शिवजी (इसर जी) और पार्वती जी (गौरी) की पूजा करती हैं।

 पूजा शुरू करते समय

1) किवाड़ी खुलवाने का गीत — Gangaur ka Geet Kiwadi khulvane ka

गौर ए गणगौर माता खोल ए किवाड़ी

बाहर ऊबी थारी पूजण वाली।

पूजो ए पूजो बाईयां , काई काई मांगों

म्हे मांगा अन्न धन , लाछर लक्ष्मी।

गणगौर के गीत लिखे हुए

जलहर जामी बाबुल मांगा, राता देई मायड़

कान कंवर सो बीरो  मांगा , राई सी भौजाई।

ऊँट चढयो बहनोई मांगा , चूंदड़ वाली बहना

पूस उड़ावन फूफो मांगा , चूड़ला वाली भुवा।

काले घोड़े काको मांगा , बिणजारी सी काकी

कजल्यो सो बहनोई मांगा , गौरा बाई बहना।

भल मांगू पीहर सासरो ये भल मांगू सौ परिवार ये

गौर ए गणगौर माता खोल ए किवाड़ी।

hindi lyrics gangaur ke geet

Scroll to Top