राम भक्ति

Search

सजा दो घर को गुलशन सा, मेरे सरकार आये है भजन लिरिक्स | sajado ghar ko gulshan sa lyrics

सजा दो घर को गुलशन सा, मेरे सरकार आये है भजन लिरिक्स

सजा दो घर को गुलशन सा, मेरे सरकार आये है भजन लिरिक्स | sajado ghar ko gulshan sa lyrics | Ram Bhakti Lyrics

RELATED – Ramji Ki Nikli Sawari Lyrics In Hindi | रामजी की निकली सवारी लिरिक्स

Ramji Ki Nikli Sawari Lyrics In Hindi | रामजी की निकली सवारी लिरिक्स

pacha jata sawra lyrics in hindi

सजा दो घर को गुलशन सा,
मेरे सरकार आये है,
मेरे सरकार आये है,
लगे कुटिया भी दुल्हन सी,
लगे कुटिया भी दुल्हन सी,
मेरे सरकार आये है,
सजा दो घर को गूलशन सा,
मेरे सरकार आये है।।

तर्ज – जगत के रंग में क्या देखु।

पखारो इनके चरणो को,
बहा कर प्रेम की गंगा,
बहा कर प्रेम की गंगा,
बिछा दो अपनी पलको को,
मेरे सरकार आये है,
सजा दो घर को गूलशन सा,
मेरे सरकार आये है।।

उमड़ आई मेरी आँखे,
देख कर अपने बाबा को,
देख कर अपने बाबा को,
हुई रोशन मेरी गलियां,
मेरे सरकार आये है,
सजा दो घर को गूलशन सा,
मेरे सरकार आये है।।

तुम आकर फिर नहीं जाना,
मेरी इस सुनी दुनिया से,
मेरी इस सुनी दुनिया से,
कहूँ हर दम यही सब से,
मेरे सरकार आये है,
सजा दो घर को गूलशन सा,
मेरे सरकार आये है।।

सजा दो घर को गुलशन सा,
मेरे सरकार आये है,
मेरे सरकार आये है,
लगे कुटिया भी दुल्हन सी,
लगे कुटिया भी दुल्हन सी,
मेरे सरकार आये है,
सजा दो घर को गूलशन सा,
मेरे सरकार आये है।।

Scroll to Top